+91 943 029 3163 info@biharkhojkhabar.com

oriental_banner

विरासत

पटना ब्रिटिश, डच, डेन और फ़्रांसिसी व्यापारिक घरानों का मिलन स्थल था

शेरशाह ने पटना के सामरिक और वाणिज्यिक महत्व को समझते हुए 1541 में यहां किले का निर्माण करवाया था। इसके बाद वह ज्यादा दिनों तक जीवित नहीं रह सका था। लेकिन पटना प्रगति...

क्या ये कुरान के सबसे पुराने अंश हैं ?

ब्रिटेन के बर्मिंघम विश्वविद्यालय में कुरान की शायद सबसे पुरानी पांडुलिपि के अंश मिले हैं. पन्नों की रेडियो कार्बन डेटिंग तकनीक से जांच से पता चला कि कुर...

Post Carousel