+91 943 029 3163 info@biharkhojkhabar.com
BREAKING NEWS

अगले तीन दशकों में वैश्विक अर्थव्यवस्था में भूकंप ला देगा इंटरनेट, जैक मा ने दी चेतावनी

 

चीन की दिग्गज ई-कॉमर्स कंपनी अलीबाबा ग्रुप होल्डिंग लि. के चेयरमैन जैक मा ने चेतावनी देते हुए कहा है कि हमें दशकों तक दर्द सहने के लिए तैयार रहना चाहिए क्योंकि इंटरनेट दुनिया भर की अर्थव्यवस्था में उथल-पुथल मचा रहा है।

चीन के झंगझऊ में आयोजित एक आंट्रप्रन्योरशिप कॉन्फ्रेंस में बोलते हुए अलीबाबा के सह-संस्थापक जैक मा ने दुनिया भर में शिक्षा व्यवस्था में बदलाव की जोरदार वकालत की और कहा कि रोबॉटों के साथ काम करने की सीख मिलनी चाहिए ताकि स्वचालन (ऑटोमेशन) और इंटरनेट आधारित अर्थव्यवस्था (इंटरनेट इकॉनमी) से होनेवाले नुकसान को कम किया जा सके।

जैक मा ने कहा, ‘अगले 30 सालों में दुनिया को खुशी से कहीं ज्यादा दुख देखना होगा।’ मा ने इसके लिए इंटरनेट की वजह से नौकरियों में होनेवाली कमी का हवाला दिया। उन्होंने आगे कहा, ‘अगले तीन दशकों में सामाजिक संघर्षों का असर सभी तरह के उद्योगों और जीवन के सभी पहलुओं पर पड़ेगा।’

जैक मा का यह सालाना भाषण थोड़ा अलग था क्योंकि अक्सर वह अपनी भूमिका में एक दूरद्रष्टा की छवि गढ़ना चाहते हैं और भविष्य के प्रति आश्वस्त करने का वादा करते हैं।

जैक मा ने समारोह में कहा कि उन्होंने ई-कॉमर्स के शुरुआती दिनों में लोगों को चेतावनी देने की कोशिश की थी कि यह पारंपरिक खुदरा दुकानों को बर्बाद कर देगा, लेकिन किसी ने उनकी नहीं सुनी। इस बार वह नई तकनीकों के असर को लेकर फिर से चेतावनी देना चाहते हैं ताकि भविष्य में यह किसी को अचंभा नहीं लगे।

मा ने कहा, ’15 साल पहले हमने भाषणों में लोगों को 200 से 300 बार याद दिलाया कि इंटरनेट सभी उद्योगों को प्रभावित करेगा, लेकिन लोगों ने इसे अनसुना कर दिया क्योंकि तब मैं कुछ नहीं था।’ गौरतलब है कि चीन की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी अलीबाबा ने फिल्म प्रॉडक्शन से लेकर विडियो स्ट्रीमिंग और फाइनैंस से लेकर क्लाउड कंप्यूटिंग तक, कई नए बिजनसों में करोड़ों डॉलर का निवेश किया।

चीनी उपभोक्ताओं का नब्ज पकड़ने में माहिर अलीबाबा ने दूसरे देशों में भी कारोबार के विस्तार पर नजरें गड़ा रखी हैं। इसकी शुरुआत दक्षिण एशिया में कदम रखने के लिए लजाडा ग्रुप एसए पर नियंत्रण प्राप्त करने के साथ हो गई। अलीबाबा की विस्तारवादी नीति से ऐमजॉन जैसी वैश्विक ई-कॉमर्स कंपनियों के साथ भिड़ंत की आशंका है।

52 वर्षीय मा पारंपरिक बैंकिंग उद्योग की भी काफी आलोचना करते हैं। उनका कहना है कि समाज के ज्यादा-से-ज्यादा लोगों को कर्ज मुहैया किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि अच्छी कर्ज व्यवस्था के अभाव की वजह से सबको भुगतना पड़ता है।

Bihar Khoj Khabar About Bihar Khoj Khabar
Bihar Khoj Khabar is a premier News Portal Website. It contains news of National, International, State Label and lots More..

Bihar Khoj Khabar
About the Author
Bihar Khoj Khabar is a premier News Portal Website. It contains news of National, International, State Label and lots More..

Related Posts

Leave a Reply

*