+91 943 029 3163 info@biharkhojkhabar.com

अब पटना के आईजीआईएमएस में होगा लिवर का ट्रांसप्लांट

इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान (आईजीआईएमएस) देश का 6वां व पूर्वोत्तर राज्य का पहला अस्पताल बन जायेगा जहां लिवर ट्रांसप्लांट की सुविधा मिलने जा रही है। फिलवक्त देश के पांच सरकारी अस्पतालों में ही लिवर ट्रांसप्लांट हो रहा है. इसमें दिल्ली एम्स, एसजीपीजीआई चंढीगढ़, पीजीआई लखनऊ, एमजीआर अस्पताल चेन्नई, आईबीएल न्यू दिल्ली में ही लिवर का ट्रांसप्लांट होता है।

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने मंगलवार को आईजीआईएमएस में छह नयी सुविधाओं का उद्घाटन करने के दौरान यह बात कही। छह नयी सुविधाओं में 14 बेड का सर्जिकल आईसीयू, 2 वीआईपी आईसीयू, जन्म व मृत्यु प्रमाण पत्र काउंटर, 234 बेड का मेडिकल छात्रावास, 16 बेड का स्टाफ क्वार्टर, मनोचिकित्सा व स्कीन वार्ड का उद्घाटन मंत्री ने किया।

उद्घाटन के बाद स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने मीडिया से बातचीत में कहा कि आईजीआईएमएस के छह विभाग में सुपर स्पेश्यलिटी की पढ़ाई को मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया ने रोक लगा दी है। हालांकि अस्पताल प्रशासन की ओर से कमियों को दूर कर लिया गया है।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि 19 जनवरी को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा पटना आयेंगे जिन्हें कमियों को दूर करने का आवेदन दिया जायेगा। उम्मीद है कि एमसीआई की ओर से लगी रोक हटेगी और यहां मेडिकल के पीजी कोर्स में सुपर स्पेश्यलिटी की पढ़ाई शुरू हो जायेगी।

संस्थान के निदेशक डॉ प्रदीप दास ने बताया कि 19 जनवरी को इसका उद्घाटन केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा करेंगे। कार्यक्रम में सीएम नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे, पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव व सांसद सीपी ठाकुर शामिल होंगे।

Leave a Reply

*