+91 943 029 3163 info@biharkhojkhabar.com

ऑस्कर 2017: पहली बार किसी मुस्लिम अभिनेता को मिला पुरस्कार !

आखिरकार ‘ऑस्कर अवॉर्ड्स’ ने यह तय कर लिया है कि उसकी नजर में  हॉलीवुड में सबसे बेहतरीन अदाकार और सर्वश्रेष्ठ फिल्म कौन सी है।

ऑस्कर समारोह में बेहद मजबूत दावेदार मानी जा रही फिल्म ‘ला ला लैंड’ को पछाडकर ‘मूनलाइट’ ने सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार जीत लिया। हालांकि   इससे पहले पुरस्कार की घोषणा में हैरान कर देने वाली गडबडी सामने आई थी।

‘ला ला लैंड’ को सर्वश्रेष्ठ निर्देशक, सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री की श्रेणी समेत कुल छह ट्रॉफियां मिली हैं लेकिन वॉरेन बीटी और फाय डनवे ने गलती से इसी फिल्म को सर्वश्रेष्ठ फिल्म भी घोषित कर दिया।

हालांकि विजेता भाषण के बीच संगीतमय फिल्म ला ला लैंड के निर्माताओं को पता चला कि कहीं कुछ गडबडी है और तब जॉर्डन होरेविट्ज ने घोषणा की कि असल में यह पुरस्कार ‘मूनलाइट’ को जाता है।

कई लोगों को उनकी इस बात पर विश्वास नहीं हुआ लेकिन उन्होंने यह साफ किया कि वह मजाक नहीं कर रहे। उन्होंने दर्शकों को वह कार्ड भी दिखाया जिस पर ‘मूनलाइट’ लिखा हुआ था।

हैरान परेशान बीटी ने बाद में स्पष्टीकरण देते हुए कहा, ‘मैं आपको बताता हूं कि दरअसल हुआ क्या था। मैंने लिफाफा खोला जिसमें एमा स्टोन, ला ला लैंड लिखा था. इसलिए मैंने फाय और आपकी ओर गहराई से देखा. मैं मजाक करने की कोशिश नहीं कर रहा था।’

फिल्म मूनलाइट तारेल अल्विन मेकक्रेनी के आत्मकथात्मक नाटक ‘‘इन मूनलाइट ब्लैक बॉयज लुक ब्लू” पर आधारित है. यह एक छोटे बजट की फिल्म है।

मूनलाइट की आलोचकों ने भी प्रशंसा की है। इस फिल्म को गोल्डन ग्लोब में भी बेस्ट पिक्चर का पुरस्कार मिला है। अकादमी पुरस्कारों में सर्वश्रेेष्ठ निर्देशक, सर्वश्रेष्ठ पटकथा और सर्वश्रेष्ठ फिल्म श्रेणी में एक साथ नामित होने वाले पहले अश्वेत जेनकिन ने इतिहास रच दिया है।

हॉलीवुड फिल्म ‘मूनलाइट’ में बेहतरीन सहायक अभिनेता के रोल के लिए महेरशेला अली को ऑस्कर अवॉर्ड से नवाजा गया। महेरशेला अली ऑस्कर अवॉर्ड पाने वाले पहले मुस्लिम अभिनेता बन गए हैं।

उनकी क़िस्मत इस लिहाज से भी अच्छी कही जा सकती है कि महेरशेला को ऑस्कर के लिए पहली बार ही नोमिनेट किया गया था।

इस दौड़ में महेरशाला के मुकाबले भारतीय मूल के अभिनेता देव पटेल भी थे। देव पटेल को ये नोमिनेशन ‘लायन’ में उनके रोल के लिए मिला था।

बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस के अवॉर्ड के लिए विओला डेविस को चुना गया है। ‘फेंसेज’ में विओला डेविस के रोल की तारीफों का सिलसिला इस अवॉर्ड के बाद और बढ़ जाएगा।

ईरानी सिनेमा को दुनिया भर में उनके उम्दा कथानक और फ़िल्मकला के लिए जाना जाता है। विदेशी भाषा की सर्वश्रेष्ठ फिल्म पाने वाली फ़िल्म इस बार बनी है ‘द सेल्समेन’।

‘द सेल्समेन’ के मेकर असगर फरहदी को 2012 में टाइम मैगजीन ने दुनिया के सौ प्रभावशाली लोगों की सूची में शामिल किया था।

एनिमेटेड शॉर्ट फिल्म की कैटगिरी में ‘पाइपर’ ने बाजी मारी है। बेस्ट एनिमेटेड फ़ीचर फिल्म की कैटिगरी में ‘जूटोपिया’ ऑस्कर पाने में कामयाब रही है।

‘जंगल बुक’ ने बेस्ट विज़ुअल इफ़ेक्ट्स के लिए ऑस्कर जीता है। अवॉर्ड दिए जाने से पहले तक जबर्दस्त चर्चा में रही ‘ला ला लैंड’ को पहला ऑस्कर प्रोडक्शन डिजाइनिंग के लिए दिया गया है।

Bihar Khoj Khabar
About the Author
Bihar Khoj Khabar is a premier News Portal Website. It contains news of National, International, State Label and lots More..

Related Posts

Leave a Reply

*