+91 943 029 3163 info@biharkhojkhabar.com

तेजस्वी और तेजप्रताप जिंदाबाद के नारे से कांग्रेसी विधायक ने किया इंकार

कांग्रेस में टूट की खबर के बीच दिल्ली में बैठकों का दौर और फिर राहुल गांधी से विधायकों की मुलाकात के बाद भी विद्रोहियों के तेवर ढीले नहीं हुए हैं।

बक्सर सदर से कांग्रेस विधायक संजय कुमार तिवारी ने स्पष्ट कहा है कि कांग्रेस को राजद का साथ छोड़ अकेले बिहार में आगे बढऩे के बारे में सोचना चाहिए।

एक राष्ट्रीय अखबार से उन्होंने कहा कि आलाकमान उनकी बातें नहीं मानता है तो कांग्रेस के 27 विधायक और पांच विधान पार्षद मिलकर कोई निर्णय लेंगे।

कांग्रेस विधायक ने कहा कि हम लोगों ने बहुत लालू-राबड़ी जिंदाबाद कर लिया। अब तेजस्वी और तेजप्रताप जिंदाबाद नहीं करने वाले हैं। दिल्ली में आलाकमान के साथ मीटिंग में अपनी बात कह दी है।

जब उनसे यह पूछा गया कि पार्टी आलाकमान अभी राजद से संबंध तोडऩे के पक्ष में नहीं रहता है तो क्या करेंगे? इस पर उन्होंने कहा कि इस पर निर्णय वे अकेले नहीं ले सकते हैं, सभी विधायक बैठकर सामूहिक निर्णय लेंगे।

दूसरी ओर विधायक के बयान पर बिहार की राजनीति गरमा गई है। राजद के जिलाध्यक्ष शेषनाथ सिंह ने कहा कि कांग्रेस के विधायक को अपने उच्च नेतृत्व पर भरोसा नहीं रहा।

उन्होंने कहा कि राजद हर चुनाव में बक्सर सदर सीट पर अच्छा प्रदर्शन करता रहा, लेकिन पिछले चुनाव में महागठबंधन के हित में उसने यह सीट कांग्रेस को देकर संजय तिवारी को विधायक बनने का अवसर दिया। महागठबंधन में किसी को खलनायक बनाकर जदयू-भाजपा को लाभ उठाने का मौका नहीं देना चाहिए।

Leave a Reply

*