+91 943 029 3163 info@biharkhojkhabar.com

दिव्यता के महान पूंज थे महात्मा सुशील: बड़े भैया

पटना, 24 अप्रैल। विलक्षण आध्यात्मिक साधना पद्धति ‘इस्सयोग’ के प्रवर्त्तक महात्मा सुशील कुमार दिव्यता के महान पूँज थे।उनके संपूर्ण व्यक्तित्व में एक अद्भुत तेज़ था। उनकी वक्तृता चमत्कृत करती थी। वे अत्यंत आकर्षक और प्रभाव शाली थे। वे कहा करते थे कि , – “अपने को तुच्छ शरीर मत समझो, तुम एक दिव्य आत्मा हो! हर मनुष्य दिव्य है। वह केवल इस सत्य को जानता और मानता नही है।”

यह बातें आज यहाँ अन्तर्राष्ट्रीय इस्सयोग समाज के तत्त्वावधान में महात्मा जी के 16वें महानिर्वाण दिवस पर आयोजित दो दिवसीय महोत्सव के समापन के अवसर पर अपने उद्गार में, संस्था के उपाध्यक्ष पूज्य बड़े भैया श्रीश्री संजय कुमार ने कही। उन्होंने कहा कि, सदगुरुदेव कहा करते थे कि, मनुष्य की सारी समस्याओं के जड़ में उसका ‘मन’ ही है। किंतु मन हीं उसके निदान का उपाय भी है। आम मनुष्यों के ऊपर उसके ‘मन’ का राज चलता है। जब एक साधक अपने ‘मन’ पर राज करने लगता है, तो मन उसका दास हो जाता है। तब वह सारी शक्तियों का स्वामी बन जाता है।

इस अवसर पर अपना आशीर्वचन देती हुईं संस्था की अध्यक्ष सद्गरमाता माँ विजया जी ने बड़े भैया की बातों को आगे बढ़ाते हुए कहा कि, “मन का रूप बड़ा विराट है। मन हीं बंधन और वही मोक्ष का कारण भी है। इस्सयोग की साधना-पद्धति के माध्यम से ‘मन को साधना’ सहज हो जाता है। आवश्यकता है इस पथ पर आगे बढ़ने की। जो बढ़ेगा, गुरु की कृपा उस पर अवश्य हीं होगी।

यह जानकारी देती हुई, संस्था की संयुक्त सचिव सरोज गुटगुटिया ने बताया कि, इस अवसर पर 4 इस्सयोगियों; अवंतिका आहूजा, कुमारी नीलू, यशस्विनी दत्त तथा आभा आहूजा को इस वर्ष का ‘महात्मा सुशील कुमार माँ विजया प्रोत्साहन पुरस्कार’ प्रदान किया गया। इस अवसर पर, डा अनिल सुलभ, अजीत कुमार सिंह, राकेश कुमार श्रीवास्तव, मीता अग्रवाल, सुमन सुहासरिया, मनोज राज, डा गिरिजा शंकर, डा कैलाश सोलंकी तथा रवींद्र राजन ने भी अपने उद्गार व्यक्त कर सद्ग़ुरु के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित की।

इसके पूर्व गोला रोड स्थित संस्था के उत्सव भवन ‘एम एस एम बी भवन’ में दो घंटे की अखंड साधना और भजन संपन्न हुआ, इसके तत्काल बाद ‘हवन-यज्ञ’ और प्रदर्शनी का उद्घाटन तथा इस्सयोग सीडी का लोकार्पण माताजी द्वारा किया गया। इस अवसर पर, संस्था के सचिव कुमार सहाय वर्मा, संयुक्त सचिव उमेश कुमार, सांसद रमा देवी, संगीता झा, संदीप नीना गुप्ता, शुभश्री सुंदर राजन, डा गोविंद सोलंकी, महेंद्र सिंह, ए के साहू, माया साहू, नरेंद्र पटेल, चंद्रशेखर आज़ाद चौरसिया, डा मूल चंद्र, आर के तिवारी, वीरेंद्र राय, किरण प्रसाद, क्रिशन मोहन राय, किरण झा समेत हज़ारों की संख्या में इस्सयोगी उपस्थित थे।

Related Posts

Leave a Reply

*