+91 943 029 3163 info@biharkhojkhabar.com

पीएनबी घोटाला: झुग्‍गी और चॉल में रहते हैं कंपनियों के डायरेक्‍टर

कुख्यात पीएनबी घोटाले में शामिल मेहुल चौकसी के डायरेक्टर्स मुंबई के संकरे इलाकों में किसी चाल या 1 बीएचके के पुराने मकान में रहते हैं, जहां बमुश्किल ही कोई सुविधा है। कंपनी के डायरेक्टर्स बेहद ही साधारण इंसान और छोटे-मोटे रिटेल निवेशक हैं, जिन्हें बहला फुसलाकर, गिली इंडिया लिमिटेड, नक्षत्र ब्रैंड लिमिटेड और गीतांजलि जेम्स कंपनी में ऑन पेपर टॉप मेंबर बनाया गया है।

मालूम हो कि मेहुल चौकसी और नीरव मोदी से जुड़े ठिकानों पर सीबीआई की छापेमारी जारी है। इस सिलसिले में सीबीआई ने अपनी रिपोर्ट में मेहुल चौकसी की कंपनियों के डायरेक्टर्स के नाम भी शामिल किए हैं और एफआईआर में सभी के नाम दर्ज किए हैं। लेकिन चौंकाने वाली बात यह है कि नामी-गिरामी कंपनी के डायरेक्टर्स के रजिस्टर्ड ठिकानों पर जब मीडिया की टीम पहुंची तो तस्वीर उम्मीद से बिल्कुल उलट थी। साथ ही यह सच सामने आया कि जिन कंपनियों के गहनों को सिलेब्रिटीज पहनकर रेड कार्पेट में उतरते थे या जिनके मालिक इतने बड़े बैंक फ्रॉड में फंसे हैं उनके डायरेक्टर्स बिल्कुल साधारण इंसान हैं।

मेहुल चौकसी के डायरेक्टर्स मुंबई के संकरे इलाकों में किसी चाल या 1 बीएचके के पुराने मकान में रहते हैं, जहां बमुश्किल ही कोई सुविधा है। कंपनी के डायरेक्टर्स बेहद ही साधारण इंसान और छोटे-मोटे रिटेल निवेशक हैं, जिन्हें बहला फुसलाकर, गिली इंडिया लिमिटेड, नक्षत्र ब्रैंड लिमिटेड और गीतांजलि जेम्स कंपनी में ऑन पेपर टॉप मेंबर बनाया गया है।

मुंबई के दहिसर निवासी मिहिर जोशी का नाम भी एफआईआर में शामिल हैं जो गिली इंडिया के डायरेक्टर हैं। एफआईआर में उनका पता एक रूम-किचन सेट वाला घर रजिस्टर्ड है, जिसे उन्होंने किराये पर उठाकर पास के ही एक फ्लैट में रहने लगे। जोशी के किरायेदार जमना प्रसाद ने बताया, ‘पुलिस की टीम पिछले हफ्ते ही यहां आई थी. हम 7 हजार रुपए किराया देते हैं लेकिन मिहिर जोशी से हमारी कभी मुलाकात नहीं हुई। कभी उनके पिता किराया लेने आते हैं और कभी हम उनके घर जाते हैं।’

बता दें कि सरकारी नियमों के अनुसार सभी कंपनियों को अपने डायरेक्टर्स के आवासीय पते और अन्य विवरण देना जरूरी है।

Related Posts

Leave a Reply

*