+91 943 029 3163 info@biharkhojkhabar.com

मक्का की बर्बादी पर किसान सभा में सैंकड़ों किसानों एकजुट हुए

कुर्साकाटा: जन जागरण शक्ति संगठन के बैनर तले कुर्साकाटा’प्रखंड के सैंकड़ों किसान मकई की खेती की बर्बादी पर चर्चा करने कपद्फोड़ा’ सामुदायिक भवन में जमा हुए | किसान सभा में किसानों ने अपनी बात कहते हुए कहा कि हमारे खेतो में मक्का लगा हुआ है, पौधा अच्छा है पर कई मकई की खेत में दाना नहीं आया है | जहां दाना आया था वहाँ कुछ दिन पहले आंधी तूफ़ान से बर्बादी हुई है | पिछले अगस्त में बाढ़ के चलते खेत बर्बाद हो गया | धान और पटुआ सड़ गया या बह गया | फसल कि क्षतिपूर्ति ज्यादातर किसानों को नहीं मिली है |

लगातार हो रहे फसल बर्बाद होने के चलते किसान परेशान हैं, नाराज और हताश हैं | इस सभा में पचास से अधिक किसानों ने अपनी बात रखी और यह स्पष्ट हुआ कि 50% से अधिक फसल क्षति हुई है |

सभा का संचालन आशीष रंजन ने किया और अध्यक्षता कृष्ण कुमार सिंह ने की | सभा में जन जागरण शक्ति संगठन की कामायनी स्वामी और उज्जवल कुमार ने भी अपनी बातें रखी और इस मुद्दे को आगे ले जाने की बात की |

किसान सभा में किसानो ने निम्लिखित मांगे रखी जिसे कृषि पदाधिकारी के सामने राखी जायेगी | मांग पूर्ती नहीं होने पर किसान एक बड़ा आन्दोलन खड़ा करेंगे|

•प्रखंड कृषि पदाधिकारी से इस बात की मांग की जाय की कुर्साकाटा प्रखंड में मकई की क्षति का ठीक से आकलन किया जाय और एक महीने के अन्दर रिपोर्ट जारी करें |
•फसल क्षतिपूर्ति का मुआवजा जल्द से जल्द मिले |
•बटईदार, और सुधभारना खेत लिए किसानों भी मुआवजा मिले| जमीन की रसीद अनिवार्य ना हो
•बाढ़ में बहुत कम किसानो को फसल क्षति का मुआवजा मिला है इसका एक कारण यह है कि अररिया जिले में मात्र 26 करोड़ रूपये ही मिले हैं
•जिन किसानों ने किसान क्रेडिट कार्ड से लोन लिया है उन्हें बीमा का क्लेम मिले और उनका ऋण माफ़ हो

जन जागरण शक्ति संगठन की ओर से उज्ज्वल की रिपोर्ट
+91-9572326737

Related Posts

Leave a Reply

*