+91 943 029 3163 info@biharkhojkhabar.com

मर्सिडीज़ में सीबीआइ मुख्यालय पहुंचे लालू, खाया दाल भात और चोखा

रेलवे टेंडर घोटाला मामले में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव से सीबीआइ ने सात घंटे तक लंबी पूछताछ की। पूछताछ के दौरान लालू प्रसाद ने सीबीआइ द्वारा पूछे गए सभी प्रश्नों का जवाब दिया। उनके साथ उनकी बड़ी बेटी मीसा भारती भी थी, लेकिन पूछताछ के दौरान लॉबी में बैठी रहीं।

सीबीआइ की पूछताछ के ब्रेक में लालू प्रसाद ने जमकर चावल, दाल और आलू चोखा खाया। लालू की फरमाइश पर सीबीआइ ने उनके लिए साधारण बिहारी खाना सीबीआइ की कैंटीन में बनवाया था।

विभाग के एक अधिकारी ने एक न्यूज चैनल को बताया, ‘लालू यादव की तबियत को ध्यान में रखते हुए ऐसा इंतजाम किया गया था। उनकी तबीयत ख़राब रहती है, इसीलिए उन्होंने कहा कि वे कम मसाले का खाना खाते हैं। तो उसी तरह का खाना हमने उन्हें दिया।;

राजद प्रमुख को सीबीआइ की कैंटीन से तीन बार चाय भी परोसी गई। उनसे पूछताछ सीबीआइ बिल्डिंग के तीसरे माले पर स्थिति ईओडब्लू के दफ़्तर में हुई। सात घंटे चली पूछताछ के बाद भी लालू यादव के चेहरे पर शिकन नहीं दिखी।

सीबीआइ के अफसर भी पूरे सम्मान के साथ उन्हें बाहर तक छोड़ने आए। मेज़बानी में सीबीआइ ने कोई कसर नहीं छोड़ी। उनकी मर्सिडीज़ कैंपस के बिल्कुल भीतर तक आई।

लालू यादव ने अपनी पूछताछ के बाद रिपोर्टरों से कहा, ‘मैंने रेल मंत्रालय में कई बदलाव किए लेकिन इन लोगों ने हमको ही आरोपी बना दिया।’

सीबीआइ की मेज़बानी से लालू प्रसाद बहुत संतुष्ट दिखे। उन्होंने कहा कि सीबीआइ का व्यवहार बहुत अच्छा था मुझे किसी से कोई शिकायत नहीं है। वे भी अपना काम कर रहे हैं। उनकी भी मजबूरी है, वो भी क्या करें?

Related Posts

Leave a Reply

*