+91 943 029 3163 info@biharkhojkhabar.com

‘मुफ्ती अवॉर्ड’ से सम्मानित किये गये नीतीश

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री मुफ्ती मुहम्मद सईद की पुण्यतिथि पर जम्मू के जोरावर सिंह ऑडिटोरियम में आयोजित कार्यक्रम में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पहला ‘मुफ्ती अवॉर्ड’ से सम्मानित किया गया।

इस मौके पर बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी भी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पहला ‘मुफ्ती अवॉर्ड’ दिये जाने की घोषणा के बाद जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती द्वारा ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को आमंत्रित किया था।

मालूम हो कि जम्मू-कश्मीर के मरहूम मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद के नाम पर इस पुरस्कार की शुरुआत की गयी है। यह पुरस्कार सार्वजनिक और राजनीतिक जीवन में ईमानदारी और पारदर्शिता के लिए दिया जा रहा है।

जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने इस बारे में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को लिखे पत्र में कहा है कि मैैं पूरी ईमानदारी से यह बात कह रही हूं कि राजनीतिक और सार्वजनिक जीवन की शुचिता के मामले में देश में आपसे बेहतर कोई नहीं जिसे इस सम्मान से नवाजा जाए।

महबूबा मुफ्ती ने नीतीश कुमार के जम्मू-कश्मीर कनेक्शन को भी याद दिलाया। उन्होंने मुख्यमंत्री को भेजे गए पत्र में कहा है कि मुझे याद है कि आपने रेल मंत्री के रूप में घाटी के लिए पहल की थी और बारामूला तथा अनंतनाग के लिए रेल लाइन का शिलान्यास किया था।

पुरस्कार समारोह में शामिल होने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार रविवार की शाम को ही दिल्ली पहुंच गये थे। वहां से वह सोमवार को जम्मू पहुंचे।

जम्मू के जोरावर सिंह ऑडिटोरियम में आयोजित होनेवाले समारोह में उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी व दिल्ली के पार्टी प्रभारी संजय झा उपस्थित थे। समारोह में शामिल होने के बाद मुख्यमंत्री सोमवार को ही शाम में करीब चार बजे वापस लौट आयेंगे। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जम्मू की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती को बिहार आने का न्योता भी दिया।

जदयू के राष्ट्रीय महासचिव व दिल्ली के प्रभारी संजय झा ने कहा कि मुख्यमंत्री को राजनीतिक व सार्वजनिक जीवन में शुचिता का अवार्ड उस वक्त मिल रहा है जब बिहार में भ्रष्टाचार के मसले पर एक राजनेता को सजा हो रही है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का अवार्ड ब्रांड बिहार के लिहाज से काफी महत्व रखता है।

Related Posts

Leave a Reply

*