+91 943 029 3163 info@biharkhojkhabar.com

मोदी का खुलासा: पटना के श्रीकृष्णापुरी में मीसा को मिली दान में करोड़ो की संपत्ति

बिहार के उपमुख्यमंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने एक बार फिर लालू परिवार की बेनामी संपत्ति को लेकर बड़ा खुलासा किया है। इस बार उन्होंने राजद सुप्रीमो की बेटी मीसा भारती को पटना के श्रीकृष्णपुरी में दान में मिली जमीन के पीछे की कहानी का पर्दाफाश किया है।

सुशील मोदी ने आज संवाददाता सम्मेलन में इसकी जानकारी देते हुए बताया कि जब लालू प्रसाद मुख्यमंत्री थे उसी वक्त उनके पैसे से सुभाष चंद्र चौधरी, पिता जमादार चौधरी गोपालगंज ने 4 कट्ठा, 11 धूर जमीन मौजा मैनपुरा, थाना- श्रीकृष्णपुरी, पटना में खरीदी। जबकि इस संपत्ति का असली मालिक लालू परिवार था।

इसके बाद सुभाष चंद्र चौधरी ने 11 लाख 32 हजार (2003 का मूल्य) की पटना शहर की अत्यंत कीमती जमीन जिसकी आज कीमत करोड़ों में होगी, लालू प्रसाद की बेटी मीसा भारती को 11 नवंबर, 2003 को दान कर दिया।

उन्होंने कहा कि जिस समय जमीन दान में दी गयी उस समय श्रीमती राबड़ी देवी राज्य की मुख्यमंत्री थी। जमीन की खरीद चेक से नहीं बल्कि नगद पैसे से की गयी।

मोदी ने खुलासा करते हुए बताया कि सुभाष चन्द्र चौधरी के दानपत्र में लिखा है कि मैं मीसा भारती की सेवा से प्रभावित होकर यह उन्हें जमीन दान कर रहा हूं। इस दानपत्र पर भोला यादव ने गवाह के नाते हस्ताक्षर किया है।

उन्होंने मीडिया को जानकारी दी कि1993 में खरीदी गयी जमीन का 10 वर्षों तक दाखिल-खारिज नहीं हुआ। जमीन दान करने से कुछ माह पूर्व इस जमीन का दाखिल-खारिज सुभाष चन्द्र चौधरी के नाम से कराया गया।

सुशील मोदी ने इस मामले पर बड़ा सवाल उठाते हुए पूछा कि आखिर गोपलागंज के रहने वाले सुभाष चंद्र चौधरी को 1993 में जमीन खरीदने के लिए किसने पैसा दिया? 10 वर्षों तक सुभाष चंद्र चौधरी के नाम से जमीन का दाखिल खारिज क्यों नहीं कराया गया?

उन्होंने जानना चाहा कि आखिर मीसा भारती ने क्या सेवा की जिससे प्रसन्न होकर सुभाष चंद्र चौधरी ने करोड़ों की जमीन दान कर दिया !आखिर सुभाष चंद्र चौधरी ने अपने बच्चों के नाम जमीन लिखने के बजाये मीसा भारती को क्यों दान कर दिया !

Related Posts

Leave a Reply

*