+91 943 029 3163 info@biharkhojkhabar.com

सलमा पर लेस्बियन सेक्स सीन के लिए निर्माता ने डाला था दवाब

हॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री सलमा हायेक का भी आखिरकार सब्र का बांध टूट गया है। यौन उत्‍पीड़न के मामले के खिलाफ चल रही मुहीम #MeToo के तहत कई अभिनेत्र‍ियों ने अपना दर्द बयां किया था। अब ऑस्कर विजेता फिल्म ‘फ्रीडा’ की अभिनेत्री ने अपनी दास्‍तान सुनाई है।

प्रख्यात चित्रकार फ्रीडा काल्हो की अविस्मरणीय किरदार निभाने वाली सलमा ने आरोप लगाया कि फिल्म निर्माता हार्वे वाइनस्टाइन ने उनका भी यौन शोषण किया था। सलमा ने प्रोड्यूसर को एक गुस्‍सैल ‘राक्षस’ करार दिया।

सलमा हायेक ने न्‍यूयॉर्क टाइम्‍स के संपादकीय में अपनी आपबीती लिखी है और कहा है कि ‘कई साल तक वह मेरा खून चूसने वाला पिशाच था।’ सलमा ने लिखा,’ हर बार न कहने पर उसका गुस्‍सा सातवें आसमान पर पहुंच जाता। मुझे लगता है उसे दुनिया में सबसे नापसंद चीज ‘ना’ सुनना था।’

निर्माता वाइनस्‍टाइन की सलमा हायक के साथ गंदी हरकतों का सिलसिला काफी दिनों तक चला। जब वाइनस्‍टाइन सलमा के ड्रीम प्रोजेक्‍ट ‘फ्रीडा’ को प्रोड्यूस कर रहा था जो उसने फिल्‍म में स्क्रिप्‍ट से बाहर जाकर सलमा का एक अन्‍य औरत के साथ अश्‍लील सीन डाल दिया था।

इस दृश्य में सलमा को फ्रंट से न्‍यूड दिखना था। सलमा ने यह भी बताया कि उसकी बात सुनना इस फिल्‍म को पूरी करने का एकमात्र उपाय था क्‍योंकि 5 हफ्ते बीत चुके थे।

सलमा को एशले जूड समेत उन तमाम लोगों के बारे में चिंता सताने लगी थी जिन्‍हें उन्‍होंने इस फिल्‍म में काम करने के लिए मनाया था। इस तरह सलमा को यह पूरी फिल्‍म करनी पड़ी और ‘फ्रीडा’ के जरिये पूरी दुनिया ने सलमा का दर्द देखा। हालांकि इस फिल्‍म को खूब सराहा गया था और फिल्‍म ने दो ऑस्‍कर भी जीते।

मालूम हो कि सलमा से पहले पाज डे ला हुएर्ता, एंजेलीना जोली, ग्वेनेथ पाल्ट्रो और रोज मैकगोवन सहित दर्जनों हॉलीवुड अभिनेत्र‍ियों ने हार्वे वाइनस्‍टाइन पर यौन उत्‍पीड़न का आरोप लगाया था। पाज डे ला हुएर्ता का यह दावा किया था कि 2010 में वाइनस्टीन ने उनसे दो बार बलात्कार किया था। वर्ष 1996 में ऑस्कर जीतने वाली अभिनेत्री मीरा सार्विनो ने भी वाइनस्टीन पर संबंध बनाने के लिए दबाव देने की कोशिश के आरोप लगाए हैं।

उल्लेखनीय है कि हॉलीवुड फिल्म निर्माता हार्वे वाइनस्‍टाइन एक साथ कई महिलाओं का यौन शोषण का आरोप है।

Related Posts

Leave a Reply

*