+91 943 029 3163 info@biharkhojkhabar.com

सोनिया गांधी के डिनर में शामिल होंगे तेजस्वी और मांझी, बिहार में गरमायी सियासत

कांग्रेस की पूर्व राष्ट्रीय अध्‍यक्ष सोनिया गांधी ने 13 मार्च को विपक्षी पार्टियों के लिए आयोजित डिनर में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के छोटे पुत्र और बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्‍वी यादव और पूर्व मुख्यमंत्री व हिंदुस्तान अवाम मोरचा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी को बुलाया है।

हम प्रवक्ता दानिश रिजवान ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि सोनिया गांधी ने जीतन राम मांझी को बुलाया डिनर पर है। उन्होंने कहा कि जीतन राम मांझी को अहमद पटेल ने फोन पर आमंत्रण दिया है। इसे लेकर बिहार में राजनीति गरमा गयी है।

भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं केंद्रीय मंत्री गिरि‍रा‍ज सिंह ने तंज कसते हुए कहा कि सोनिया गांधी गिरती हुए शाख को बचाने की कोशिश में लगीं हैं। वे लालू से मिलने जेल भी जा सकती है, लेकिन शाख उसी की बचेगी जिसको जनता चाहेगी।

मालूम हो कि पूर्वोत्तर के चुनावी नतीजों के बाद लोकसभा चुनाव के पूर्व संपूर्ण विपक्ष में नयी ऊर्जा भरने की कवायद के तहत कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी ने 13 मार्च को राजग विरोधी दलों के प्रमुख नेताओं को डिनर पर बुलाया है। जिसमें विशेष तौर पर बिहार से नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव एवं पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी को आमंत्रित किया गया है।

बिहार की सियासत के नजरिये से इस डिनर को इसलिए भी अहम माना जा रहा है, क्योंकि महागठबंधन से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के अलग होने के बाद विपक्ष के रूप में बिहार में राजद-कांग्रेस की भूमिका बढ़ गयी है। इन सबके बीच प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अशोक चौधरी समेत कई बड़े नेताओं ने पार्टी से किनारा कर लिया है।

दूसरी ओर बिहार में तीन सीटों पर होने वाले उपचुनाव की प्रक्रिया अंतिम दौर में है और राज्यसभा की छह सीटों पर दोनों दलों की सहभागिता मायने रखेगी। इन तमाम परिस्थितियों के बीच राजद अध्‍यक्ष लालू प्रसाद यादव फिलहाल जेल में हैं। तेजस्‍वी यादव ही उनकी विरासत को संभाल रहे हैं। एेसे में उनको समर्थन देने के लिए जीतन राम मांझी ने एनडीए को झटका देते हुए महागठबंधन का दामन थाम लिया है। जिसके बाद महगठबंधन में उनकी भूमिका भी बढ़ गयी है।

Related Posts

Leave a Reply

*