+91 943 029 3163 info@biharkhojkhabar.com

कश्मीरियों को इंजीनियर बना रहे हैं बिहारी

श्रीनगर के जवाहर नगर की रहने वाली 20 वर्ष की क़ाज़ी फ़ातिमा ने हाल ही में आईआईटी मेंस की परीक्षा पास की है. लेकिन फ़ातिमा के लिए ये सफ़र तय करना इतना आसान नहीं रहा. फ़ातिमा कहती हैं कि कश्मीर के ख़राब हालात से उन्हें मुश्किलों का सामना तो रहा लेकिन इस दौरान भी उन्ह...

बिहार सरकार ने शहीद के परिवार को दिया 5 लाख का चेक, हुआ बाउंस

शहीद जवानों के प्रति बिहार सरकार का लापरवाही भरा उदासीन रवैया बार-बार सामने आ रहा है। छत्तीसगढ़ के सुकमा हमले में शहीद हुए राज्य के 6 जवानों का शव जब पटना पहुंचा, तो राज्य सरकार का कोई भी मंत्री उनके अंतिम संस्कार में नहीं पहुंचा था। और अब एक बार फिर शहीद रंजीत कुमार के परि...

10 मई: एक नजर में पढ़़ें 1857 की क्रांति का इतिहास, ऐसे हुई थी क्रांति की शुरूआत

10 मई 1857 का दिन भारत के इतिहास में स्वर्णिम अक्षरों में दर्ज है। आज ही के दिन मेरठ से आजादी के पहले आंदोलन की शुरूआत हुई थी, जो बाद में पूरे देश में फैल गया। 85 सैनिकों के विद्रोह से जो चिंगारी निकली वह धीरे-धीरे ज्वाला बन गई। क्रांति की तैयारी सालों से की जा रही थी। नाना साहब,...