+91 943 029 3163 info@biharkhojkhabar.com

पार्टी से बगावत, जदयू से निकाले जा सकते हैं शरद यादव !

जदयू के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और पार्टी के वरिष्ठ नेता शरद यादव अपने तीन दिन की यात्रा पर पटना पहुंचे। पटना पहुंचते ही उन्होंने नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला और कहा कि मैं गठबंधन में था और रहूंगा।

खबर के अनुसार पटना से शरद यादव बिहार के विभिन्न जिलों में जाकर महागठबंधन टूटने के बाद जनता का फीडबैक लेंगे। शरद ने कहा है कि हमारे अथक प्रयास से महागठबंधन बना था। हमने तीन हेलीकाप्टर से भाजपा के 26 हेलीकाप्टर का मुकाबला किया था। परिस्थिति विकट है और मैं जब भी परेशान होता हूं जब मन के अंधेरे से घिर जाता हूं तो उजाले के लिए लोगों के बीच जाता हूं और इसीलिए बिहार दौरा कर रहा हूं।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक शरद पार्टी के नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं, उन्होंने अपनी यात्रा की जानकारी पार्टी को नहीं दी है, इस वजह से पार्टी उनपर बड़ी कार्रवाई कर सकती है।

जदयू ने एक नोटिस भी जारी किया है जिसमें कहा गया है कि जो भी कार्यकर्ता शरद के कार्यक्रम में जाएगा उसपर पार्टी कड़ी कार्रवाई करेगी। एेसी भी जानकारी मिली है कि जल्द ही पार्टी शरद के निलंबन पर फैसला ले सकती है।

पार्टी प्रवक्ता अजय आलोक ने कहा कि पार्टी अालाकमान से गुजारिश है कि पार्टी विरोधी बयान देने पर शरद यादव पर कार्रवाई करनी चाहिए। शरद यादव ने कहा है कि मैं अभी भी गठबंधन में ही हूं, उनसे एेसे बयान की उम्मीद नहीं थी। एेसे बयान पार्टी के खिलाफ है और शरद जी ने खुद ही कह दिया है कि मैं पार्टी में नहीं।

दूसरी ओर जदयू नेता नीरज कुमार ने शरद यादव पर आरोप लगाया कि शरद यादव की बिहार यात्रा लालू के रिमोट कण्ट्रोल से चल रहा है। लालू और शरद यादव मिलकर लोगों को बेवकूफ बनाने की कोशिश कर कर रहे हैं लेकिन जनता सब कुछ जानती है उसे ये लोग मूर्ख नहीं बना सकते।

हालांकि शरद के बिहार दौरे को लेकर जदयू ने कहा है कि वो उनका अपना निजी दौरा है और पार्टी को इससे कोई लेना-देना नहीं है। लेकिन यह भी कहा जा रहा है कि शरद को पार्टी से इस बारे में बात करनी चाहिए थी।

Related Posts

Leave a Reply

*