+91 943 029 3163 info@biharkhojkhabar.com
BREAKING NEWS

इलाहाबाद का कैथेड्रल चर्च और काफी हाउस

‘‘बट द टेंडर ग्रेस आफ ए डे डैट इज़ डेड विल नेवर कम बैक टू मी’’ – टेनीसन सिविल लाइंस का वह कैथेड्रल चर्च अब भी वहीं है। मोमबत्तियों के प्रकाश में वहां अभी भी प्रार्थना सभाएं होती हैं। काफी हाउस में अभी भी लोग आते हैं। सिविल लाइन्स की सड़कों पर उंचे दरख्त अभी भी वैस...

साधना और सादगी का ऐश्वर्य-आचार्य शिवपूजन सहाय

आचार्य शिवपूजन सहाय का स्मरण आते ही जो व्यक्तित्व आँखों में उभरता है, वह एक ऐसे व्यक्ति का रूप है, जो अकिंचनता में से ही शक्ति ग्रहण करता है। उसके चारो ओर एक सुमधुर व्यक्तित्व की सुगन्ध महकती रहती है। उसके सौम्य चरित्र की निर्मल किरणें आसपास के जीवन को न केवल प्रज्वलित करती...

त्यागमूर्ति सर गणेशदत्त सिंह

एक बार की मधुर स्मृति है। एक बार जयप्रकाशजी और मैं स्वर्गीय सर गणेशदत्त सिंह से मिलने गया था। सर गणेश ऐसा त्यागी सपूत बिहार ने दूसरा नहीं पैदा किया, ऐसा बिना हिचक से कहा जा सकता है। जब तक वह मिनिस्टर रहे, अपने मामूली खर्चे के अतिरिक्त उन्होंने एक-एक पैसा दान में दे दि...